मंत्रियों के ठिकानों पर आयकर का छापा

0
80

आयकर विभाग ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के कुछ करीबी नेताओं के घर पर गुरुवार तड़के छापेमारी की। जिसको लेकर मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने आयकर विभाग के कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है. कुमारस्वामी डिप्टी सीएम जी परमेश्वर, सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार समेत कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ आयकर विभाग के कार्यालय का घेराव करने पहुंचे। इस दौरान कुमारस्वामी ने कहा, आईटी विभाग को स्वतंत्र रूप से काम करना चाहिए। लेकिन वे मोदी और अमित शाह के निर्देशों पर काम कर रहे हैं। बीजेपी के सत्ता में आने के बाद इस तरह की तानाशाही शुरू हो गई है। उन्होंने कहा, ‘‘क्या आपको लगता है कि बेंगलुरु में आईटी निदेशक निर्दोष हैं? मेरे पास भी बहुत कुछ रिकॉर्ड है’’ सीएम ने कहा, ‘निदेशक के मुंबई में कई अपार्टमेंट हैं’। कुमारस्वामी ने आरोप लगाया है कि निदेशक का बीजेपी के साथ अच्छा सांठगांठ है. उनके रिटायर होने के बाद बीजेपी ने उन्हें राज्यपाल बनाने का वादा किया है। एचडी कुमारस्वामी के करीबी और राज्य के लघु सिंचाई मंत्री सीएस पुट्टाराजू और उनके एक संबंधी के घर पर गुरुवार तड़के छापेमारी की गई।
जेडीएस नेता पुट्टाराजू ने बताया कि आयकर विभाग की तीन टीमों के साथ सीआरपीएफ के जवानों ने मांड्या में उनके चिन्नाकुरली और मैसूरु में उनके भतीजे के घर पर छापेमारी की। पीडब्ल्यूडी मंत्री एचडी रेवाना के करीबी नारायण रेड्डी, अश्वथ गौड़ा और राया गौड़ा के हासन स्थित ठिकानों पर भी छापेमारी की गई. बता दें कि कुमारस्वामी के भतीजे और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के पोते प्रज्जवल हासन सीट से ही लोकसभा चुनाव में उतर रहे हैं। वहीं जल संसाधन मंत्री डीके शिवकुमार के क्षेत्र कनकपुरा स्थित तालुका दफ्तर में भी आयकर विभाग के अधिकारी पहुंचे थे। इसके एक दिन पहले ही एचडी कुमारस्वामी ने अपने नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी की आशंका जताई थी। उस वक्त कुमारस्वामी ने कहा था कि आयकर विभाग छापेमारी की तैयारी कर रहा है. देश के विभिन्न राज्यों से 300 से ज्यादा आयकर विभाग के अधिकारी और सीआरपीएफ कर्मचारियों को राज्य में बुलाया गया है। आयकर विभाग की टीम इस छापेमारी में पुलिस का इस्तेमाल न करके केंद्रीय सुरक्षा बलों का इस्तेमाल कर सकती है।