मुझे वापसी की अपनी क्षमता पर अटूट भरोसा था: जीतू राय

0
119

गोल्ड कोस्ट। भारत के स्टार निशानेबाज जीतू राय ने कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के क्वालीफाइंग दौर में औसत स्कोर के बावजूद उन्हें वापसी करके स्वर्ण पदक जीतने की अपनी क्षमता पर पूरा भरोसा था। जीतू ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मेरा क्वालीफिकेशन स्कोर बहुत अच्छा नहीं था लेकिन मुझे अपनी क्षमता पर पूरा भरोसा था। मैने अतीत में भी फाइनल्स में अच्छा प्रदर्शन करके पदक जीते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘दो तीन खराब स्कोर से परेशानी हुई लेकिन मुझे आत्मविश्वास का फायदा मिला। इससे मैं बहुत खुश हूं। मुझे पता था कि फाइनल में इसकी भरपाई कर लूंगा। मुझे अभ्यास के दौरान की गई कड़ी मेहनत का फल मिला।”

 महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल में रजत पदक जीतने वाली मेहुली को 10–9 के स्कोर के बाद लगा कि उसने स्वर्ण जीत लिया है। उसने कहा, ‘‘वह मेरी गलती थी। मैं खेल पर इतना फोकस कर चुकी थी कि भूल गई कि यह शूटआफ है।’’ उसने कहा, ‘‘यह मेरा पहला राष्ट्रमंडल खेल है। मैं खुश हूं लेकिन संतुष्ट नहीं।’’ भावी योजनाओं के बारे में पूछने पर उसने कहा, ‘‘मैं अगली बार और मेहनत करूंगी। मुझे पता है कि इससे बेहतर कर सकती हूं।’’ कांस्य पदक विजेता अपूर्वी चंदेला ने कहा, ‘‘देश के लिये एक और बार पदक जीतकर अच्छा लगा। कुछ शाट बेहतर हो सकते थे लेकिन मैं अपने पदक से खुश हूं।’’